कर्नाटक में टीपू जयंती के मौके पर सड़कों पर संग्राम, धारा 144 लागू

0
कर्नाटक में टीपू जयंती के मौके पर सड़कों पर संग्राम, धारा 144 लागू

बेंगलुरु: कर्नाटक में विपक्षी दल यानि बीजेपी द्वारा टीप जयंती मनाने का जबरदस्त विरोध चला आ रहा है. वहीं शनिवार को विरोध-प्रदर्शन के बीच सेक्युलर-कांग्रेस की सरकार टीपू जयंती मना रही है. पिछले कई दिनों से बीजेपी इसका विरोध कर रही है. प्रदेश के सीएम एचडी कुमारस्वामी ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए टीपू जयंती के किसी भी कार्यक्रम में शामिल होने से मना कर दिया है. वहीं माना ये जा रहा है कि किसी भी तरह के विवाद से बचने के लिए कुमारस्वामी ने ये फैसला लिया है.

ये भी पढ़ें: सबरीमाला: 550 महिलाओं ने कराया दर्शन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, सुरक्षा कड़ी

सुरक्षा व्यवस्था कड़ी

टीपू जयंती के मौके पर सुरक्षा कड़ी की गई है. धारवाड़, कोडागू और हुबली में शनिवार सुबह 6 बजे लेकर रविवार सुबह 7 बजे तक के लिए धारा 144 लागू कर दी गई है. जहां भाजपा एवं बाकी संगठन प्रदर्शन कर रहे हैं तो वहीं पुलिस ने मडिकेरी में कई लोगों को हिरासत में भी लिया है. डिप्टी कमिश्नर पीआई श्रीविद्या ने कहा कि हमने सभी जरूरी सुरक्षा संबंधी कदम उठाए हैं. अगर कोई भी कानून व्यवस्था को तोड़ने की कोशिश करता है तो पुलिस कड़ी कार्रवाई करेगी.

ये भी पढ़ें: काशी में 25 से 27 नवंबर तक बुलाई गई धर्मसंसद, जारी होगा ‘धर्मादेश’

जनता का पैसा हो रहा है बर्बाद

टीपू जयंती मनाने को लेकर कोडागु के भाजपा जिला सचिव ने कहा कि सरकार जनता का पैसा टीप जयंती के नाम पर बर्बाद कर रही है. सचिव ने कहा कि ‘टीपू कोई योद्धा नहीं था, उसने मंदिरों पर आक्रमण किया और कई हिंदुओं को मारा. ऐसे व्यक्ति को हम महान क्यों बता रहे हैं.? ये केवल वोट बैंक की राजनीति है. कोडागु में सभी इसके विरोध में हैं.’ वहीं टीपू जयंती का विरोध कर रहे कई समूहों ने श्री ओमकार मंदिर में प्रार्थना की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here