GSAT-11 सैटेलाइट लॉन्च: अंतरिक्ष में भारत का सबसे भारी कदम, इंटरनेट में आएगी स्पीड क्रांति

0

अंतरिक्ष के क्षेत्र में भारत ने एक कामयाबी हासिल की है. भारतीय अंतिरक्ष अनुसंधान संस्थान ISRO ने बुधवार सुबह अब तक के सबसे भारी सैटेलाइट GSAT-11 को लॉन्च कर दिया है. इस उपग्रह को दक्षिण अमेरिका के फ्रेंच गुयाना स्पेस सेंटर से फ्रांस के एरियन-5 रॉकेट की मदद से लॉन्च किय गया. ये इसरो का वजन में अब तक का सबसे ज्यादा भार सैटेलाइट है. इसका वजन 5 हजार 845 किलोग्राम है.

ये हैं खूबियां

इस सैटेलाइट की लाइफ 15 साल है यानि कि इसका लाभ अगले 15 सालों तक लिया जा सकेगा. वहीं इसमें एक सोलर पैनल भी लगा है. वहीं इसमें इंटरनेट स्पीड 14 GBPS तक करने की क्षमता है. नेक्सट जेनरेशन प्लेटफॉर्म तैयार करने वाली क्षमताएं भी इसमें हैं. गौरतलब, है कि पहले ही भारत (ISRO) इससे पहले GSAT-19 और GSAT-29 सैटेलाइट्स कोलॉन्च कर चुका है. वहीं अगले साल ISRO GSAT-20 को लॉन्च करेगा.

टेलिकॉम सेक्टर के लिए वरदान

इस सैटेलाइट को भारतीय समयानुसार देर रात 2:07 बजे और 3:23 बजे के बीच लॉन्च किया गया. इससे भारत में इंटरनेट की गति बढ़ाने में मदद मिलेगी. बताया जा रहा है कि ये कामयाबी टेलिकॉम सेक्टर के लिए वरदान साबित हो सकती है क्योंकि इसकी मदद से इंटरनेट की गति 14 GBPS तक हो सकती है. इसे इसरो की बड़ी कामयाबी के रूप में देखा जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here