पीएम मोदी ने देश को समर्पित किया राष्ट्रीय पुलिस स्मारक, जवानों की शहादत याद कर हुए भावुक

0
PM Modi dedicated the national police monument to the country, remembering the martyrdom of soldiers

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पुलिस स्मारक दिवस के अवसर पर रविवार को स्वतंत्रता के बाद से पुलिस जवानों द्वारा दिर गए सर्वोच्च बलिदान के सम्मान में राष्ट्रीय पुलिस स्मारक (एनपीएम) का उद्घाटन किया. इस दौरान पीएम मोदी जवानों की शहादत को याद करते हुए भावुक भी हो गए. एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, चाणक्यपुरी में 30 फीट ऊंचा यह एकल पाषाण-स्तंभ देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पुलिस बल और केंद्रीय पुलिस संगठनों का प्रतिनिधित्व करता है.

यह भी पढ़े: नाम बदलने पर पूर्व आईपीएस का योगी पर कटाक्ष, ‘आप बच्चों के मानिन्द है खुशफहम’

इस स्मारक का निर्माण शांतिपथ के उत्तरी छोर पर चाणक्यपुरी में 6.12 एकड़ भूमि पर किया गया है. 1947 से अभी तक 34,844 पुलिस जवान शहीद हो चुके हैं जिनमें 424 पुलिस जवानों ने इसी वर्ष अपनी शहादत दी है. इनमें से कई बहादुर जवानों ने कश्मीर, पंजाब, असम, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम जैसे विभिन्न क्षेत्रों एवं देश के वाम चरमपंथ क्षेत्रों में आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अपनी जानें गवाई हैं.

इसके अतिरिक्त, बड़ी संख्या में पुलिस के जवान अपराध रोकने एवं कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने में शहीद हुए. एनपीएम ग्रेनाइट के एक टुकड़े से बनी केंद्रीय प्रस्तर प्रतिमा है जो 30 फीट ऊंचा पत्थर का खंभा है, जिसका वजन 238 टन है. इसका वजन और रंग सर्वोच्च बलिदान की गंभीरता का प्रतीक है.

यह भी पढ़े: हाथ से निकलते संगठन और सरकार पर संघ ने यूं कसा शिकंजा, सटीक निशाने पर लगा तीर

सभी 34,844 पुलिस जवानों के नाम शूरता की दीवार पर ग्रेनाइट पर उत्कीर्ण हैं. 1959 में चीनी सैनिकों द्वारा लद्धाख में हॉट स्प्रिंग्स में मारे गये पुलिस जवानों की याद में प्रत्येक वर्ष 21 अक्टूबर को पुलिस स्मारक दिवस मनाया जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here