बरेली: दो सौ करोड़ से ज्यादा की हेराफेरी, बीएल एग्रो पर आईटी रेड में चौंकाने वाले खुलासे

इनकम टैक्स के डायरेक्टर विजिलेंस अमरेंद्र कुमार के मुताबिक बैल कोल्हू ग्रुप के घनश्याम खंडेलवाल और दिलीप खंडेलवाल ने कोलकाता बेस फर्जी कंपनी बनाकर 30 करोड़ रुपए की हेराफेरी की. अमरेंद्र कुमार ने बताया कि, “बीएल एग्रो ने कोलकाता बेस दो कंपनियों में अपना कैस जमा किया. उन कंपनियों को हाई प्रीमियम पर अपना शेयर बेच दिया. फिर सिक्योरिटी प्रीमियम ले लिया.

0

बरेली: बैल कोल्हू ब्रांड चलाने वाले खंडेलवाल ब्रदर्स के 29 प्रतिष्ठानों पर छापेमारी में आयकर विभाग ने 200 करोड़ रुपए से ज्यादा की हेराफेरी की आशंका जताई है. आयकर की टीम का दावा है कि खंडेलवाल ब्रदर्स की कंपनी बीएल एग्रो ने फर्जी कंपनियां बनाकर करोड़ों रुपए का वारा-न्यारा कर लिया. जांच में दिलीप खंडेलवाल के वेयरहाउस में एक दीवार में छुपी हुई तिजोरी मिली जिसमें करोड़ों रुपए के हीरे और जवाहरात बरामद हुए.

करोड़ों रुपए का कोई रिकॉर्ड नहीं

इनकम टैक्स के डायरेक्टर विजिलेंस अमरेंद्र कुमार के मुताबिक बैल कोल्हू ग्रुप के घनश्याम खंडेलवाल और दिलीप खंडेलवाल ने कोलकाता बेस फर्जी कंपनी बनाकर 30 करोड़ रुपए की हेराफेरी की. अमरेंद्र कुमार ने बताया कि, “बीएल एग्रो ने कोलकाता बेस दो कंपनियों में अपना कैस जमा किया. उन कंपनियों को हाई प्रीमियम पर अपना शेयर बेच दिया. फिर सिक्योरिटी प्रीमियम ले लिया. यानी अपना करीब 30 करोड़ रुपए फर्जी कंपनी में जमा कर उसे अपने एकाउंट में ट्रांसफर कर लिया.” दोनों भाइयों ने करीब सात-आठ कंपनियां ऐसी बनाई, जिसमें करोड़ों रुपए का टर्नओवर दिखाया. उन कंपनियों में करीब 130 करोड़ रुपए लगाया, फिर कंपनी को आरएससी में बंद कर दिया. इसी के चलते अब उसकी डिटेल नहीं दिखाई दे रही है. इनकम टैक्स डायरेक्टर ने कहा कि अगर कारोबारियों के पास दस्तावेज हैं तो वह उन्हें दिखाएं. अगर वह साबित नहीं कर पाते हैं तो टैक्स चोरी का मामला बनेगा.

ये भी पढ़ें- बरेली: सपा के पूर्व सांसद ने हिंदू देवताओं पर दिया विवादित बयान, मामला दर्ज

करीबी महिला के पास भी बेनामी संपत्ति

आयकर विभाग की टीम ने कारोबारी की करीबी ब्यूटी पार्लर संचालिका के प्रतिष्ठान पर भी छापेमारी की. छापेमारी में कई बेनामी फ्लैट और जमीन का खुलासा हुआ. इसके अलावा घनश्याम खंडेलवाल के रिश्तेदार वीरेंद्र खंडेलवाल के लोहिया विहार स्थित सर्वम एडिबल ऑयल्स कंपनी पर भी टीम ने छापा मारा. वहां भी रिकॉर्ड में हेराफेरी पाई गई है.

तिजोरी से हीरे, जवाहरात मिले

छापेमारी के दौरान दिलीप खंडेलवाल ने हार्ट अटैक का बहाना करके इनकम टैक्स के अधिकारियों को खूब छकाया. इसके बाद अधिकारियों ने दिलीप खंडेलवाल को अस्पताल में एडमिट कराया जिसमें सारी जांचें सामान्य निकलीं. इसके बाद अधिकारियों ने दिलीप खंडेलवाल के वेयरहाउस में छापा मारा जहां पर एक दीवार में छुपी हुई तिजोरी बरामद हुई जिसमें करोड़ों रुपए के हीरे और जवाहरात बरामद हुए. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का कहना है कि इस रेड में कई अहम सुराग मिले हैं जिनका खुलासा जल्द किया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here