मोदी जैसा बनना चाहता है चाय वाला, लड़ चुका है राष्ट्रपति का चुनाव

0

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव अपने चरम पर है, हर कोई नेता बनकर जीत हासिल कर विधानसभा जाने को बेताब है। वहीं ग्वालियर में एक ऐसे प्रत्याशी है जो पीएम मोदी की तरह चाय बनाते और बेंचते है। आनंद कुशवाहा नाम को प्रत्याशी 1994 से पार्षद से लेकर राष्ट्रपति तक चुनाव लड़ चुके हैं। हरबार उनको हार मिली लेकिन चुनाव लड़ना नहीं छोड़ा।

ये भी पढ़े : जानिए कैसे पहुंचते हैं अयोध्या में भगवान राम के दर्शन करने

हर चुनाव में भरते है नामांकन

आनंद सिंह कुशवाहा लोगों को अपने हाथों से चाय पिलाकर समर्थन मांग रहे हैं। प्रत्याशी आनंद सिंह कुशवाह चाय की छोटी सी दुकान चलाते है। जिनकी आर्थिक स्थिति बहुत अच्छी नहीं है, लेकिन फिर भी चुनाव लड़ने के लिए अपनी कमाई का कुछ हिस्सा चुनाव लडने के लिये अलग से जमा करते है। आनंद के मुताबिक जब भी कोई चुनाव आता है, उसमें यह अपना नामांकन भरते हैं अभी तक यानी 1994 से 22 बार विभिन्न पदों के लिये अपना नामांकन करा चुके हैं। फिर चुनाव पार्षद का हो या राष्ट्रपति का।

ये भी पढ़े : स्वामी भद्राचार्य ने आश्वासन दिया और माहौल बनाकर खत्म हो गयी धर्मसभा

राष्ट्रपति चुनाव में भी पेश कर चुके है दावेदारी

आनंद सिंह कुशवाह पार्षद, विधायक, सांसद और राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के लिये भी अपनी उम्मीदवारी पेश कर चुके हैं। उन्हें उम्मीद है कि कभी न कभी जीत उनके हिस्से में आएगी जरूर। आनंद सिंह का मानना है कि मोदी चाय वाले बड़े नेता हैं और में छोटा नेता हूँ लेकिन एक ना एक दिन उन्हें भी जीत हासिल होगी।

ये भी पढ़े : अयोध्या की हनुमान गढ़ी के महंत रमेश दास का निधन, कई महीनों से थे बीमार

आनंद सिंह जीत का हौसला लिए चाय की दुकान चलाते हुए, साइकिल से प्रचार कर रहे हैं। वहीं मंदिर मस्जिद भगवान के सामने मत्था टेकना भूलते है, अपने काम के बीच में लोगों से जनसंपर्क करने में उनका परिवार उनके साथ होता है। जो उनका हौसला बढ़ाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here