विवेक तिवारी की तेरहवीं पर पत्नी कल्पना को मिला नियुक्ति पत्र, नगर निगम में बनीं ओएसडी

0

लखनऊ: एपल के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी को यूपी सरकार ने नौकरी का नियुक्ति पत्र दे दिया है. विवेक तिवारी की तेरहवीं में पहुंचे डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, कैबिनेट मंत्री अशुतोष टंडन ने उनको नियुक्ति पत्र दिया. इस मौके पर कल्पना तिवारी ने विवेक तिवारी मर्डर केस में अब तक की जांच से संतुष्टि जताई है.

नगम निगम में ओएसडी बनीं कल्पना तिवारी

विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी को नगर निगम लखनऊ में विशेषकार्याधिकारी (ओएसडी) बनाया गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कल्पना तिवारी को नगर निगम में नौकरी देने का एलान किया था. नगर निगम, लखनऊ ने रिक्त पद प्रधान लिपिक या जनसंपर्क अधिकारी का प्रस्ताव शासन को भेजा था. शासन ने ओएसडी पद का सृजन करते हुए उनकी तैनाती कर दी.

विवेक तिवारी का तेरहवीं संस्कार हुआ

गुरुवार को एपल के अधिकारी रहे विवेक तिवारी का तेरहवीं संस्कार हुआ. न्यू हैदराबाद के शिवगंगा अपार्टमेंट में आयोजित तेरहवीं पर बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी भी तैनात किए गए. इसमें डिप्टी सीएम डॉ.दिनेश शर्मा और कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन भी शामिल हुए. तेरहवीं में परिवारीजन, उनके रिश्तेदार, परिचित और ऑफिस के साथियों ने हवन पूजन के बाद विवेक तिवारी को श्रद्धांजलि दी.

केस की जांच से कल्पना संतुष्ट

विवेक तिवारी केस की जांच पर कल्पना तिवारी से संतुष्टि जताई है. उन्होंने कहा कि मामले की जांच सही दिशा में चल रही है इसलिए मैं अभी तक की जांच से संतुष्ट हूं. बता दें कि विवेक के परिवार ने सरकार से आवास और नगर निगम में नौकरी की मांग की थी. 29 सितंबर को कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी की गोली से विवेक की मौत हो गई थी. वह उस वक्त एपल फोन की लॉन्चिंग इवेंट से लौट रहे थे और पूर्व सहयोगी सना खान को उसके घर छोड़ने जा रहे थे. विवेक की मौत के मामले में आरोपी कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी और संदीप को बर्खास्त कर दिया गया था. दोनों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया था. इस मामले की मैजिस्ट्रेट जांच चल रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here