राजस्थान में राहुल का मोदी पर हमला- अंबानी की चौकीदारी करते हैं पीएम

धौलपुर की एक जनसभा में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर तगड़ा हमला बोला. राहुल ने मोदी पर बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया.

0

धौलपुर: राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया के गढ़ में एक रैली को संबोधिततत करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर जबर्दस्त हमला बोला. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों के एक भी पैसे का कर्ज माफ नहीं किया. राहुल ने दावा किया कि कांग्रेस राज्य में अगली सरकार बनाएगी.

साढ़े 4 साल से क्या कर रही थीं वसुंधरा ?

राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया द्वारा किसानों को मुफ्त बिजली देने के दावे पर भी सवाल किया. उन्होंने कहा कि, “चुनाव से एक महीने पहले, राजे कहती हैं कि वह किसानों को मुफ्त बिजली देंगी. मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि वह पिछले साढ़े चार साल से क्या कर रही थीं.” राहुल ने कहा कि, “आपके प्रधानमंत्री ने किसानों का एक भी पैसे का कर्ज माफ नहीं किया. जब विपक्ष ने उनसे ऋण माफ करने की मांग की तो उन्होंने एक शब्द भी नहीं बोला.”

राफेल पर मोदी सरकार को घेरा

कांग्रेस अध्यक्ष राफेल सौदे को लेकर बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी ने ऑफसेट करार सरकारी कंपनी को देने की बजाए एक निजी कंपनी को दे दिया. सरकारी कंपनी को करार देने से हजारों इंजीनियरों के लिए नौकरियां पैदा होतीं. पीएम पर बड़ा हमला करते हुए राहुल ने कहा कि, “मोदी जी ने कहा मुझे प्रधानमंत्री नहीं बनना मुझे तो चौकीदार बनना है. लेकिन ये नहीं बताया कि किसका चौकीदार बनना है. बाद में पता चला कि अंबानी जी की चौकीदारी हो रही है.

ये भी पढ़ें- चाचा शिवपाल के दोनों हाथों में लड्डू, कुछ इस तरह बिगाड़ेंगे भतीजे का खेल !

राजस्थान में बनेगी कांग्रेस सरकार

राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस राज्य में अगली सरकार बनाने जा रही है, क्योंकि कार्यकर्ताओं ने जीत के लिए कड़ी मेहनत की है और साथ मिलकर काम किया है. उन्होंने कहा कि, “कांग्रेस यहां सरकार बनाने जा रही है. एक ऐसी सरकार जो गरीबों, किसानों, छोटे व्यापारियों, युवाओं और पार्टी कार्यकर्ताओं की होगी.”

पुरानी गल्तियों से सबक लेंगे

राहुल ने कहा कि, “पिछली बार, मैं जानता हूं कि मंत्रियों ने कार्यकर्ताओं द्वारा उठाई मांग की तरफ ध्यान नहीं दिया था, लेकिन मैं आश्वस्त करता हूं कि इस बार मुख्यमंत्री और मंत्रियों के दरवाजे आम जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए खुले रहेंगे. पार्टी जीत के लिए एकसाथ मिलकर कड़ी मेहनत कर रही है.” गौरतलब है कि 200 सदस्यीय राजस्थान विधानसभा के चुनाव के लिए मतदान एक चरण में सात दिसंबर को होना है.

-आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here