पहली बार मेट्रो देखकर बच्चों ने किए ऐसे काम, प्रबंधन को बुलानी पड़ी CISF

0

मेट्रो दिल्ली की लाइफ लाइन बन चुकी है, मेट्रो जिस इलाके में पहुंचती है वहां के लोग मेट्रो दिल खुल कर स्वागत करते है. लेकिन नॉर्थ-ईस्ट की घनी आबादी वाले इलाके में मेट्रो का स्वागत करने के लिए कुछ स्कूली बच्चों को बुलाया गया था. बुधवार जब पिंक लाइन का नया सेक्शन खुला, तो जाफराबाद स्टेशन पर कुछ देर के लिए अफरातफरी मच गई. उद्घाटन के बाद स्कूली बच्चों का एक बड़ा झुंड हुड़दंग मचाने लगा.

स्कूली बच्चों ने किया हुड़दंग

स्कूली बच्चों के इस हुड़दंगी झुंड़ ने स्टेशन पर अफरातफरी के हालात पैदा कर दिये. जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के अंदर दाखिल हो गया और बच्चे यहां-वहां दौड़ लगाने लगे. कुछ बच्चे बिना टोकन के एएफसी गेट पार करके प्लैटफॉर्म पर जाने की कोशिश करने लगे. हालांकि स्टेशन पर सीआईएसएफ का स्टाफ वहां तैनात था. वहां तैनात स्टाफ को  अंदाजा नहीं था कि बच्चें इतना और ऐसा हंगामा मचा सकते है.

सीआईएसएफ के सुरक्षाकर्मियों ने संभाला मोर्च 

आनन फानन में सीआईएसएफ के सुरक्षाकर्मी दौड़कर एएफसी गेट के पास पहुंचे और बच्चों को अंदर जाने से रोका.  हालांकि इसके बावजूद बच्चे नहीं माने और कुछ बच्चे अंदर घुसने में कामयाब हो गए. कई बच्चे यहां शोर मचाते हुए डांस भी करते दिखे, तो कुछ बच्चे एस्केलेटर की हैंड रेल पर बैठकर खतरनाक तरीके से ऊपर से नीचे जाते नजर आते दिख रहे है. कुछ बच्चे चलते एस्केलेटर पर उल्टी दिशा में चढ़ते-उतरते भी नजर आए.

स्क्लेटर को बनाया स्लाइडर

विडियो इंटरनेट पर वायरल होने के बाद सीआईएसएफ के प्रवक्ता हेमेंद्र सिंह ने बताया कि स्टेशन के बाहर का एरिया सीआईएसएफ के कंट्रोल में नहीं रहता है, इसलिए जब बच्चों की भीड़ जाफराबाद स्टेशन के कॉनकोर्स एरिया पर पहुंच गई. स्टेशन पर बच्चों के पहुंचने पर सीआईएसएफ स्टाफ अलर्ट हुआ. हालांकि जैसे ही बच्चों ने हंगामा मचाते हुए अंदर जाने की कोशिश की, सीआईएसएफ के स्टाफ ने तुरंत उन्हें रोक लिया और इस दौरान पूरे संयम से काम लेते हुए पूरे हालात पर काबू पाया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here