वसीम रिज़वी का विवादित बयान, कट्टरपंथी है सुन्नी समाज, शिया इनसे दूर रहें

0

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए माहौल पूरी तरह से गरमाया हुआ है. अयोध्या में आज विहिप धर्म सभा का आयोजन करने जा रही है. इसमें लाखों लोगों के पहुंचने की उम्मीद है. लेकिन शिया सेंट्रल वफ्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिज़वी ने अयोध्या में खराब हो रहे माहौल के लिए सुन्नी समाज के कट्टरपंथी को जिम्मेदार बताया है.

सुन्नी समाज के कट्टरपंथी को बताया जिम्मेदार

वसीम रिज़वी ने कहा कि, ‘जिस तरह से न्याय में हो ही देरी और कुछ कट्टरपंथी सुन्नी समाज के लोगों की हट की वजह से पूरे देश में राम मंदिर को लेकर एक लहर पैदा हुई है. और ऐसे में शिया समाज के लोग सुन्नी समाज से दूर रहे’. उन्होंने आगे कहा, ‘सुन्नी समाज के कट्टरपंथी लोग पर खराब होते माहौल के लिए जिम्मेदार है.’

ये भी पढे : अयोध्या में राम मंदिर ही बने, मुझे इस्लाम से खारिज होने की परवाह नहीं: वसीम रिज़वी

‘सपने में श्री राम को रोते देखा’

इससे पहले वसीम रिज़वी कई दफे भी अयोध्या में विवादित जमीन पर राम मंदिर निर्माण की वकालत कर चुके है. वसीम रिज़वी ने बीते दिनों ही कहा था कि उन्होंने अपने सपने में भागवान श्रीराम को रोते हुए देखा है. अयोध्या में राम मंदिर नहीं बनने के प्रभु श्रीराम भी काफी दुखी थे.

ये भी पढे : बाबर की मस्जिद ने खूब कराई सियासत, 490 साल बाद भी नहीं हो सका है फैसला

इसी साल जून माह में वसीम रिज़वी ने महंत नृत्यगोपाल दास से मुलाकात की थी और राम मंदिर निर्माण के लए दस हजार रुपये भी दान किए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here