भोपाल में कार्यकर्ता महाकुंभ में गरजे मोदी, 440 से 44 पर आई कांग्रेस, फिर भी नहीं गया अहंकार

नरेन्द्र मोदी ने जातिवादी राजनीति पर हमला बोलते हुए कहा कि, "वोट बैंक की राजनीति ने देश को दीमक की तरह तबाह किया है, आजादी के 70 साल बाद भी देश में जो बर्बादी आई है, वह वोट बैंक की राजनीति का ही नतीजा है.

0
Karyakarta Mahakumbh: PM Narendra Modi attacks one Congress

भोपाल: जम्बूरी मैदान में आयोजित कार्यकर्ता महाकुंभ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जातिवादी राजनीति पर हमला बोलते हुए कहा कि, “वोट बैंक की राजनीति ने देश को दीमक की तरह तबाह किया है, आजादी के 70 साल बाद भी देश में जो बर्बादी आई है, वह वोट बैंक की राजनीति का ही नतीजा है. कई दल समूहों को बांटकर सत्ता पाने का खेल खेलते थे. वे सबका कल्याण नहीं चाहते थे, बल्कि सिर्फ कुर्सी का रास्ता बनाते थे. ऐसे लोगों ने देश को छोटे-छोटे टुकड़ों में बांटा है और सामाजिक ताने-बाने को तहस-नहस कर दिया है. पीएम मोदी ने लोकसभा में कांग्रेस सदस्यों की संख्या में आई गिरावट पर भी चुटकी ली. उन्होंने कहा कि ‘440 से 44 सीटों पर आ गए, लेकिन उनका अहंकार अभी भी नहीं गया.’ प्रधानमंत्री ने लोगों से देश की सेवा करने का एक और मौका मांगा.

ये भी पढ़ें-  वसीम रिजवी के सपने में इसलिए रोते हुए आए भगवान राम !

कांग्रेस को सूक्ष्मदर्शी से ढूंढना पड़ेगा

कांग्रेस की बदहाली और सिकुड़ते जनाधार पर चुटकी लेते हुए मोदी ने कहा कि ऐसी पार्टी जो 125 साल पुरानी हो, जिसने 50-60 साल देश पर राज किया हो, जिसके पास कई पूर्व मंत्री, पूर्व राज्यपाल, पूर्व सांसद-विधायक हों, ऐसा क्या हुआ कि इतनी बड़ी पार्टी को अब देश में सूक्ष्मदर्शी यंत्र लेकर ढूंढना पड़ता है कि किसी कोने में बची है या नहीं. मोदी ने कांग्रेस नेताओं को इस बात का आत्मचिंतन करने की सलाह दी कि उनकी पार्टी इतनी बेहाल क्यों हो गई है. मोदी ने कहा कि साल 1984 में हमारी भी पराजय हुई थी, अटल जी तक चुनाव हार गए थे, लेकिन हमने चुनाव हारने के बाद ईवीएम को गाली देकर चमड़ी बचाने का काम नहीं किया. पराजय के बाद संकल्प के साथ चले, देश की जनता को विश्वास दिलाया और आज देश की जनता ने हम पर भरोसा किया.

विकास पर लड़ा जाएगा अगला चुनाव

मोदी ने कहा कि अगला चुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ जाएगा. हमारी ताकत कार्यकर्ता हैं, चुनाव हमें धनबल, बाहुबल से नहीं बल्कि जनबल से लड़ना है. वोट बैंक की राजनीति के लिए समाज में घोले जाने वाले जहर को रोकना होगा. यही कारण है कि तीन तलाक जैसे मुद्दों पर उस दल का नजरिया अलग है, जिसकी मुखिया महिला है. प्रधानमंत्री ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास सिर्फ चुनावी नारा नहीं है, बल्कि बीजेपी का मकसद समाज के सभी वर्गो का विकास करना है, यही कारण है कि समाज के सभी वर्गो के लिए योजनाएं बनाई गई हैं.

ये भी पढ़ें- यूपी: बीजेपी नेता ने अपनी ही सरकार पर बोला हमला, दो मंत्रियों को बताया फेल

हमें हराने के लिए भारत से बाहर गठबंधन खोज रही कांग्रेस

मोदी ने राफेल का जिक्र किए बिना कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि देश में गठबंधन करने में सफल न होने वाली देश की सबसे पुरानी पार्टी दुनिया के देशों से गठबंधन कर रही है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के इस रवैए को देश के जागरूक नागरिकों को समझना होगा. पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि बीजेपी ऐसा दल है, जो एकात्म मानववाद को लेकर चलता है. ऐसा दल दुनिया में नहीं है जो मानवता की बात करता हो. मोदी ने आजादी के बाद के तीन आदर्श बताए. उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी, राम मनोहर लोहिया और पंडित उपाध्याय ही आदर्श हैं. हमारा विश्वास समन्वय में रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here