वीडियोः रायबरेली जेल में अपराधी रिवॉल्वर, कारतूस रखकर कर रहे थे पार्टी, जेलर समेत कई सस्पेंड

0

यूपी की जेलों में अपराधियों और जेल अधिकारियों की मिलीभगत एक बार फिर सामने आई है। सोशल मीडिया में वायरल हुए वीडियो के बाद रायबरेली से लेकर लखनऊ तक हड़कंप मच गया। वीडियो  रायबरेली कारागार का बताया जा रहा है।

जिसमें असलहा-कारतूस के बीच शराब पी रहे  है। वायरल वीडियो में शातिर किस्म के अपराधी जेल में शराब पार्टी कर मौज उड़ा रहे हैं। मामला संज्ञान में आने पर जिला प्रशासन के भी होश उड़ गए। मामले में डीआईजी उमेश श्रीवास्तव ने जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही जेलर समेत कई अधिकारियों को शासन ने सस्पेंड कर दिया है।

वायरल वीडियो रायबरेली जिला जेल का बताया जा रहा है। इसमें बंद अपराधी जेल में सिगरेट का धुआं उड़ाते हुए सरकारी मशीनरी को आइना दिखा रहे हैं। यही नहीं इस वीडियो में जेल में बंद अपराधी फोन पर अपने साथी को 10,000 हजार रुपये में से 5000 रुपये एक जेल के अधिकारी को देने की बात कह रहे हैं। मामला संज्ञान में आने पर डीआईजी, जेल उमेश श्रीवास्तव ने जांच के आदेश दिए हैं। बताया जा रहा है कि मामला पता चलते ही प्रशासन ने गुपचुप तरीके से इन बंदियों का तीन दिन पहले ही गैर जिलों की जेलों में तबादला कर दिया।

25 शातिर अपराधी जेल में है बंद

रायबरेली की इस जेल में कई शातिर अपराधी बंद है। जो वहीं से अपने गैंग को ऑपरेट कर रहे हैं। जिनपर जेल के अफसर भी हाथ डालने से कतरा रहे हैं। वीडियो वायरल में पांच अपराधी दिख रहे हैं। इसमें से चार अपराधियों के खिलाफ सदर कोतवाली में एफआईआर दर्ज है। कहा जा रहा है कि जिस अपराधी का नाम एफआईआर में नहीं डाला गया है, उसका संबंध सूबे के एक माफिया डान से है। यही वजह है कि उसका भी स्थानांतरण कर दिया गया है, लेकिन उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की हिम्मत नहीं पड़ी।

वीडियो वायरल होने के बाद डीएम-एसपी का जेल में छापा

जेल में अपराधियों के शराब पार्टी किए जाने का वीडियो वायरल होने के बाद रविवार देर शाम डीएम संजय कुमार खत्री और एसपी सुजाता सिंह ने जेल में छापा मारा। अचानक छापेमारी से जेल अफसरों में हड़कंप मच गया। डीएम-एसपी की मौजूदगी में सभी बैरकों और उसमें बंद बंदियों की तलाशी ली। तलाशी के दौरान लाइटर समेत अन्य सामग्री मिली।

अधिकारियों ने की कैदियों से पूछताछ

डीएम-एसपी ने जेल अधीक्षक प्रमोद शुक्ला, जेलर जीआर वर्मा समेत अन्य अफसरों व कर्मचारियों से वीडियो वायरल के बारे में पूछताछ की। एसपी ने बताया कि वीडियो वायरल के साथ-साथ जेल में कई शिकायतें मिल रही थी। इसलिए जेल का जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान कुछ आपत्तिजनक सामग्री मिली है, जिसकी जांच कराई जा रही है।

मामले की जांच के आदेश

जेल में चखना और शराब पार्टी का वीडियो वायरल होने की जानकारी पर बंदी निखिल सोनकर को सुल्तानपुर, अजीत को बाराबंकी, दलसिंगार सिंह को फतेहपुर और अंशू का प्रतापगढ़ जिला कारागार स्थानांतरण कर दिया गया है। साथ ही प्रकरण की पहले ही एफआईआर सदर कोतवाली में लिखाई जा चुकी है। कुछ लोगों ने जेल का माहौल खराब करने के लिए वीडियो बनवाया है। जांच कराई जा रही है।
 प्रमोद शुक्ला, जेल अधीक्षक

जिला कारागार रायबरेली के अंदर अपराधियों की ओर से असलहों के बीच शराब पार्टी करने वीडियो वायरल होने का मामला संज्ञान में आया है। प्रकरण की जांच कराई जा रही है। जांच में जो भी जेल अफसर और कर्मचारी दोषी मिलेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। जेल की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी।
 उमेश श्रीवास्तव,  डीआईजी जेल, लखनऊ परिक्षेत्र

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here