पिछड़ा और SC/ST आरक्षण में बंटवारे के लिए फॉर्मूला तैयार

0

उत्तर प्रदेश में दलितों और पिछड़ों के आरक्षण में बंटवारे के लिए गठित सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट के आधार पर अब SC/ST और पिछड़ा वर्ग आरक्षण को बांटने की तैयारी है. समिति ने पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को तीन बराबर हिस्सों में बांटने की सिफारिश की है. इसके लिए तीन वर्ग पिछड़ा, अति पिछड़ा और सर्वाधिक पिछड़ा बनाने का प्रस्ताव किया है. SC/ST में भी दलित, अति दलित और महादलित श्रेणी बनाकर इसे भी तीन हिस्से में बांटने की सिफारिश की है.

वहीं समिति की सिफारिश फिलहाल मुख्यमंत्री के पास है, जिस पर मंथन चल रहा है. वहीं रिपोर्ट को जल्दबाजी में लागू नहीं किया जा रहा है क्योंकि आशंका है कि रिपोर्ट को लागू किए जाने की स्थिति में जातीय राजनीति पर केंद्रित राजनीतिक दलों में घमासान मच सकता है.

ये भी पढ़ें: केजरीवाल दिल्ली में लागू करेंगे पुरानी पेंशन व्यवस्था! नई पेंशन योजना को बताया विश्वासघात

पिछड़ा वर्ग

सूत्र बताते हैं कि समति ने अपनी रिपोर्ट में पिछड़े वर्ग को तीन श्रेणियों में बांट दिया गया है. इस वर्ग को अब तक 27 फीसदी आरक्षण मिलता था. सिफारिश के मुताबिक, अब तीनों श्रेणियों को 9-9-9 फीसदी आरक्षण देने की रिपोर्ट में संस्तुति की गई है. यहां पिछड़ा वर्ग में 12, अति पिछड़ा में 59 समेत सर्वाधिक पिछड़ा में 79 जातियां रखी गई हैं.

ये भी पढ़ें: VIDEO: सीएम योगी आदित्यनाथ का आदेश नहीं मानते अधिकारी, परेशान किसान ने फूंके धान

SC आरक्षण

वहीं SC आरक्षण को लेकर सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक, SC/ST के 22 फीसदी आरक्षण को भी तीन हिस्सों में बांटने की सिफारिश की है, जिसमें दलित, अति दलित और महादलित तीन श्रेणियां प्रस्तावित की गई है. 22 फसीदी आरक्षण को तीन वर्गो 7-7-8 के फॉर्मूले पर बांटने का प्रस्ताव है. वहीं दलित वर्ग में 4, अति दलित में 37 और महादलित में 46 जातियों को रखने की सिफारिश है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here